Articles Search

Title

Category

बालों का झड़ना रोकने के आयुर्वेदिक व घरेलू उपाय

Monday, 30 April 2018 09:37

Title

Category

दोस्तों, शायद ही कोई ऐसा व्यक्ति हो जो घने, मजबूत और स्वस्थ बालों की इच्छा ना रखता हो। यूँ तो बालों को लेकर लड़के-लड़कियां सभी सचेत रहते हैं लेकिन लड़कियां  अपनें बालों को ले कर काफी सजग होती हैं। बाल हमारे outer appearance को बहुत हद तक प्रभावित करते हैं। असमय बाल सफ़ेद हो जाने या झड़ जाने से व्यक्ति अपनी असल उम्र से बड़ा दिखने लगता है और उसका आत्मविश्वास भी प्रभावित हो सकता है।

हमारे scalp  (सिर की त्वचा) पर लगभग 1 लाख बाल होते हैं और रोजाना 50-100 बालों का टूट जाना सामान्य माना जाता है लेकिन अगर संख्या इससे अधिक है तो ये एक चिंता की बात है। इसी तरह बालों का सफ़ेद होना भी एक natural phenomenon है, उम्र के साथ-साथ कुछ बाल सफ़ेद होते जाते हैं, लेकिन आज कल देखा जाता है कि स्कूल जाने वाले बच्चों के और कम उम्र के व्यक्तियों के भी बाल सफ़ेद होने लगे हैं, और ये भी एक चिंता की बात है। आज इस लेख में हम हेयर लॉस के कारण और उससे छुटकारा पाने के उपायों के बारे में बात करेंगे।

तो आइये सबसे पहले हम बालों की इन समस्याओं के कारणों को जानते हैं:

बालों के झड़ने या गिरने के कारण  / Cause of Hair Loss in Hindi

गलत खानपान

कुपोषण

प्रदूषण

बालों की सही देखभाल न होना

खाद्य पदार्थों में मिलावट होना

सिगरेट स्मोकिंग या अन्य नशीले पदार्थों का सेवन करना

टेंशन या stress  लेना

Scalp infection

Hormonal  Imbalance

कुछ दवाओं के साइड इफेक्ट्स के कारण

कुछ मेडिकल कंडीशंस जैसे थाइरोइड, iron-deficiency anemia, chronic diseases, इत्यादि

आनुवांशिक या genetic  वजहों का होना

गर्भावस्था में या कैंसर के ईलाज के दौरान भी बालों की समस्या होती है, लेकिन ये एक सामान्य बात है।

बालों के पोषण के लिए कम रक्त मिलनें पर, या शरीर का रक्त दूषित हो जाने पर भी बाल खराब हो सकते हैं। बालों के छिद्र बाधित हो जानें पर भी बालों का पोषण रुक जाता है। मानसिक तौर पर अधिक उदासीन रहने पर या फिर पुरानें जुखाम के कारण दूषित पानी बालों की जड़ों में मिश्रित (संचालित) हो जाने पर भी बालों की गंभीर समस्या उत्पन्न हो सकती है।

 

जिस तरह शरीर को नित्य व्यायाम द्वारा स्वस्थ रखा जाना चाहिए, ठीक उसी तरह बालों को अमूल्य आयुर्वेदिक औषधीय उपायों द्वारा स्वस्थ रखना चाहिए। बालों में समय-समय पर तेल मालिश करनी चाहिए, और भोजन में पौष्टिक आहार ग्रहण करना चाहिए, हरी सब्जियों और मौसमी फलों का सेवन ज़रूर करना चाहिए। तेल मालिश के लिए आप आंवला, नारियल, बादाम, आदि तेलों का प्रयोग कर सकते हैं।

 

कैसे रोकें बालों का झड़ना?/ बालों की समस्या दूर करने  के लिए 10 उपयोगी आयुर्वेदिक व घरेलू उपाय

10 Ayurvedic Ways and Home Remedies To Prevent Hair Loss in Hindi

1. तेल मालिश 

बालों को स्वस्थ रखने के लिए तेल मालिश एक बेहद सरल और असरदार उपाय है। मालिश करना hair follicles में ब्लड फ्लो सही कर देता है, स्कैल्प को कंडीशन कर देता है और जड़ों को मजबूती प्रदान करता है।

मालिश के लिए आप almond oil, olive oil, coconut, castor oil, amla oil, argan oil, या wheat germ oil का प्रयोग कर सकते हैं। मालिश का सही तरीका होता है अपने fingertips से हलके प्रेशर के साथ मसाज करना।

हफ्ते में कम से कम एक बार तेल मालिश करनी चाहिए।

2. आंवले का प्रयोग / Use of Gooseberry for Stopping Unnecessary Hair Loss 

आंवले का सेवन बालों के लिए काफी उपयोगी होता है। आंवले में Vitamin C प्रचुर मात्र में होता है, इसकी कमी हेयर लॉस का कारण बन सकती है।

तरीका:

अरीठा, आंवला और शिकाकाई समान मात्र में ले कर उनका काढ़ा बना कर उस काढ़े से सिर को धो लिया जाए तो भी बाल घनें लंबे और मुलायम सिल्की बन जाते हैं।

आम की गुठली और आंवला को समान मात्रा में ले कर उन्हे पीस कर सिर पर लगाने से बालों की जड़ें मज़बूत बनती हैं।

आंवला के फलों को पीस कर नींबू के रस में मिला कर लगाने से रूसी दूर हो जाती है।

एक चम्मच निम्बू को पिसे हुए आंवले के साथ मिला लें और उस मिक्सचर से स्कैल्प पर अच्छी तरह मालिश करें। बालों को शावर कैप से कवर कर लें और रात भर के लिए छोड़ दें और सुबह उठकर शैम्पू कर लें। ऐसा करने से रुसी दूर होने के साथ साथ बाल सुंदर बनते हैं और बालों का गिरना भी बंद हो जाता है।

3. मेथी का प्रयोग / Use of Fenugreek for Preventing Hair Loss

मेथी को बालों का झड़ना रोकने में काफी असरदार माना जाता है। मेथी के दानो में hormone antecedents पाए जाते हैं जो बालों के बढ़ने और हेयर फोलिकल्स को रिबिल्ड करने में मदद करते हैं।

तरीका:

एक कप मेथी के दानो को रात भर पानी में भिगो दें। सुबह उन्हें पीस कर एक पेस्ट तैयार कर लें। पेस्ट को स्कैल्प पर लगा लें और 40 मिनट के लिए छोड़ दें। समय पूरा हो जाने पर सर को पानी से अच्छी तरह धो लें। इस प्रक्रिया को 1 महीने तक दोहराएं।

ऐसा करने से न सिर्फ बालों का झड़ना कम होगा बल्कि आपको new hair growth भी देखने को मिलेगी।

खुश्क (रूखे-सूखे) बाल, और रूसी वाले बालों की तकलीफ दूर करनें के लिए मेथी के दानों को शुद्ध मीठे पानी में पीस कर रात्री के समय (सोने से पूर्व) बालों की जड़ों में लगाना चाहिए।

4. प्याज का प्रयोग 

प्याज में antibacterial properties होती हैं जो स्कैल्प में किसी भी तरह के इन्फेक्शन को ठीक कर देती हैं जिससे हेयर लॉस कम हो जाता है।

प्याज में सल्फर भी काफी अधिक मात्र में पाया जाता है जो हेयर फोलिकल्स में blood circulation सही करने में सहायक है। इसमें प्रोटीन और निक्टोनिक एसिड भी पाया जाता है जो बालों के उगने में मदद करता है।

कुछ स्टडीज में देखा गया है कि जो लोग अपने स्कैल्प पर प्याज का रस लगाते हैं उनके बाल पुनः तेजी से बढ़ते हैं।

तरीका:

एक कटोरी में थोड़ा सा onion juice निकाल लें और उसे directly अपने scalp पे लगा लें।

30 मिनट बाद इसे धो लें और फिर बाल शैम्पू कर लें।

इसके अलावा आप ये भी कर सकते हैं:

तीन चम्मच प्याज के रस के साथ दो चम्मच अलो वेरा जैल ( aloe vera gel) मिला लें, चाहें तो इसमें एक चम्मच ओलिव आयल (जैतून का तेल) भी add कर लें। इस मिक्सचर को 30 मिनट तक स्कैल्प पर लगा कर छोड़ दें और उसके बाद शैम्पू कर लें।

ऊपर बतायी गयी दोनों विधियों में से किसी एक एक-आध महीने तक हफ्ते दो से तीन बार करें। इन तरीकों से आपके बालों की ग्रोथ में बहुत मदद मिलेगी।

प्याज के रस और अदरक के रस में सेंधा नमक मिला कर गंजे सिर पर लगाने से बालों के उगने कि सम्भावना बन जाती है। अदरक का रस बालों के रोगों को भी दूर भगाता है।

एक गिलास पानी में एक चम्मच प्याच का रस मिला कर उस पानी से बालों को धोने से बाल निरोगी बनते हैं। सिर का गंजेपन दूर करना हों तो, प्याच का रस वहाँ लगाने से बाल उग आते हैं। शहद और प्याच का रस मिला कर बालों की जड़ों पर लगाने से बाल झड़ना रुक जाते हैं।

5. अलो वेरा का प्रयोग  / Use of Alo vera for Good Hair Growth

Aloe vera में कुछ एन्जाइम्स पाए जाते हैं जो हेयर ग्रोथ में मदद करते हैं। साथ ही इस्कू एल्कलाइन प्रॉपर्टीज स्कैल्प का pH लेवल बनाये रखती हैं जो बालों के उगने में सहायक है।

अलो वेरा जैल या जूस का इस्तेमाल स्कैल्प में खुजली, लालपन और जलन की समस्या को दूर करता है, dandruff को कम करता है और बाल की मजबूती और चमक को बढाता है।

तरीका:

अलो वेरा जैल या जूस को स्कैल्प पर लगा कर कुछ घंटों के लिए छोड़ दें और फिर उसे हलके गरम पानी से धो लें। ऐसा हफ्ते में 3 से 4 बार करें।

आप better hair growth के लिए रोजाना एक चम्मच अलो वेरा जूस भी पी सकते हैं।

 

6. मुलेठी की जड़ का प्रयोग 

तरीका:

एक चम्मच मुलेठी की जड़ को एक कप दूध में मिला दें और उसमे थोड़ा सा केसर डाल कर अच्छी तरह से मिला दें।

जहाँ-जहाँ गंजापन है वहां इस लेप को रात को सोने से पहले लगा लें। सुबह उठकर इसे धो लें।

यह प्रक्रिया आप हफ्ते में एक या दो बार कर सकते हैं।

मुलेठी की जड़ का सेवन इससे बनी चाय के रूप में भी किया जा सकता है, यह भी बालों के लिए लाभदायक है।

बालों को घना और लंबा बनाने के लिए मुलेठी का काढ़ा बना कर उससे बाल धोने चाहिए।

तिल और मुलेठी को भैस के गाढ़े दूध में मिला कर, उन्हे पीस कर बालों पर लगाना चाहिए, इस से बाल झड़ना बंद हो जाते हैं।

7. गुडहल का प्रयोग 

गुडहल के फूल में ऐसे कई गुण होते हैं जो बालों के लिए बहुत उपयोगी हैं। इसके प्रयोग से  दो मुंहे बाल, डैनड्रफ और बालों का झड़ना रोका जा सकता है।

गुडहल के प्रयोग से बालों का सफ़ेद होना भी कम किया जा सकता है और बाल घने भी किये जा सकते हैं।

तरीका:

दो कप नारियल के तेल में 10-12 गुडहल के फूल डाल दें।

अब इस घोल को किसी कड़ाही में डाल कर अच्छी तरह खौला लें।

ठंडा हो जाने पर घोल को छान कर तेल अलग कर लें।

रात को सोने से पहले बाल में ये तेल लगा लें।

सुबह उठकर बाल धो लें।

यह प्रक्रिया हफ्ते में 2-3 बार दोहराएं।

गुडहल के फूलों का रस सीधे बाल की जड़ों में लगाना भी लाभप्रद है।

 

8. चुकंदर का प्रयोग /  Use of Beetroot for Hair Loss Treatment in Hindi

चुकंदर के रस में विटामिन बी, विटामिन सी, प्रोटीन, कैल्शियम, फॉस्फोरस, कार्बोहायड्रेट और पोटैशियम होता है। ये सभी तत्व अच्छी हेयर ग्रोथ के लिए आवश्यक हैं।

तरीका:

आप चुकन्दर का सेवन सलाद के रूप में कर सकते हैं या इसका जूस भी पी सकते है।

इसके अलावा आप चुकंदर की पत्तियों को पानी में उबाल कर पीस लें और इसे मेहँदी में मिला कर अपने स्कैल्प पर करीब आधे घंटे के लिए लगा लें।  इस प्रक्रिया को हफ्ते में 2-3 बार करें।

 

9. अलसी के बीज का प्रयोग 

अलसी के बीज में ओमेगा ३ फैटी एसिड्स होते हैं जो बालों का और झड़ना रोक सकते हैं और नए बालों को उगने में मदद करते हैं।

तरीका:

रोज सुबह एक चम्मच ताजे अलसी के बीज को पानी के साथ लें। आप इसे सलाद या खाने की अन्य चीजों में भी डाल कर consume कर सकते हैं।

आप अलसी के बीज से बने तेल को बालों में लगा कर अपने बाल मजबूत बना सकते हैं और hair loss control कर सकते हैं।

 

10. नारियल का दूध 

नारियल के दूध में प्रोटीन और ज़रूरी फैट्स होते हैं जो बालों के बढ़ने में मदद करते हैं और hair loss को रोकते हैं।

तरीका:

पहले नारियल को कस लें और उसे पानी में डाल कर 5 मिनट तक उबाल लें।

ठंडा होने पर इसे छान लें, इस तरह नारियल का दूध तैयार हो जाएगा।

अब आप इसे अपने स्कैल्प और बालों में लगा कर 20 मिनट तक छोड़ दें, और फिर बाल शैम्पू कर लें।

चाहें तो आप इसमें काली मिर्च और मेथी के दाने भी मिला सकते हैं।

 

To subscribe click this link – 

https://www.youtube.com/channel/UCDWLdRzsReu7x0rubH8XZXg?sub_confirmation=1

If You like the video don't forget to share with others & also share your views

Google Plus :  https://plus.google.com/u/0/+totalbhakti

Facebook :  https://www.facebook.com/totalbhaktiportal/

Twitter  :  https://twitter.com/totalbhakti/

Linkedin :  https://www.linkedin.com/in/totalbhakti-com-78780631/

Dailymotion - http://www.dailymotion.com/totalbhakti

 

Read 19357 times

Ratings & Reviews

Rate this item
(0 votes)

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Wallpapers

Here are some exciting "Hindu" religious wallpapers for your computer. We have listed the wallpapers in various categories to suit your interest and faith. All the wallpapers are free to download. Just Right click on any of the pictures, save the image on your computer, and can set it as your desktop background... Enjoy & share.